व्यायाम का महत्व vyayam ka mahatva short essay in hindi

व्यायाम का महत्व Vyayam Ka Mahatva दोस्तों आज इस लेख में आप व्यायाम से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे जिसे पढ़कर आप में एक जिज्ञासा उत्पन्न होगी कि आप भी आज से ही व्यायाम शुरू कर दें जिससे कि आप सुखी और स्वस्थ जीवन जी सकें और किसी पर बोझ ना रहे दोस्तों व्यायाम का महत्व पर एक महत्वपूर्ण छोटी सी पुस्तिका है जिसे स्वामी ओमानंद जी ने लिखा था नीचे उसको डाउनलोड करने का लिंक दिया गया है वहां से आप इस छोटी सी पुस्तिका को डाउनलोड कर सकते हैं और अपने जीवन में लाभ उठा सकते हैं।

व्यायाम का महत्व vyayam ka mahatva short essay in hindi

व्यायाम का महत्व
benefits of Exercise in Hindi

दोस्तों पुरुष हो या महिला हम सभी भोजन करते हैं और जो व्यक्ति बिना व्यायाम के रहते हैं उनका भोजन कभी नहीं पचता अनेकों रोगों का वह भोजन कारण बन जाता है क्योंकि वह पचता नहीं आपके पेट में सड़ जाता है। और हम सभी को अधिकार है कि हम हम सभी अपना शरीर स्वस्थ बना सकें क्योंकि जो स्वस्थ मनुष्य होते हैं उनके लिए धरती स्वर्ग के समान होती है किंतु जो रोगी होते हैं उनके लिए यही धरती नर्क के समान होती है चाहे उस व्यक्ति के पास में कितना भी धन क्यों ना हो फिर भी यदि वह व्यायाम का महत्व नहीं समझ पाता है तो रोगी ही रहता है और जल्दी ही मौत के मुंह में पहुंच जाता है। benefits of Exercise in Hindi

मैं आपको छोटी सी सत्य घटना बताता हूं प्रोफेसर राम मूर्ति का नाम तो आपने सुना ही होगा यदि नहीं सुना है तो गूगल पर आप सर्च कीजिए उनके बारे में आपको महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी प्रोफेसर राममूर्ति व्यायाम का महत्व समझते थे और ब्राहाचर्य का महत्व भी समझते थे प्रोफेसर राममूर्ति खूब व्यायाम करते थे और ब्रह्मचारी भी थे जिसके कारण उनके शरीर में बहुत ही अधिक बल था और वह हमेशा अधिक से अधिक भयंकर से भयंकर और आश्चर्यचकित कर देने वाले करतब दिखाया करते थे वह हाथी को अपनी छाती पर 5 मिनट तक रोकने में समर्थ थे। एक बार वह यूरोप में गए हुए थे तो वहां पर उनसे कुछ लोग घृणा करते थे जिसके कारण उन्होंने प्रोफेसर राममूर्ति के भोजन में विश मिला दिया और प्रोफेसर राम मूर्ति को इस बात का पता चल गया लेकिन तब तक उन्होंने भोजन कर लिया था। तब प्रोफेसर राम मूर्ति ने 15000 दंड लगा दिए और पसीने के द्वारा सारा विश शरीर से बाहर निकाल दिया। प्रोफेसर राममूर्ति को कलयुग का भीम भी कहा जाता है।


vyayam ka mahatva short essay in hindi

vyayam ka mahatva letter in hindi

जब आप और हम व्यायाम करते हैं तो पसीने के द्वारा हमारे शरीर से अनेकों प्रकार का विष बाहर निकल जाता है यह बात वही समझ सकता है जो व्यायाम का महत्व समझता हो।

ब्रह्मचारी राम प्रसाद बिस्मिल एक महान क्रांतिकारी थे जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राण दे दिए इन्हीं के संगठन में चंद्रशेखर आजाद और भगत सिंह भी शामिल हुए थे उनकी जीवनी यदि आपने पढ़ी होगी तो आप जानते होंगे कि राम प्रसाद बिस्मिल पहले बहुत ही गलत संगति में पड़े हुए थे उनको नशे की आदत भी थी लेकिन जब उन्हें सत्यार्थ प्रकाश पुस्तक मिली तो वह लिखते हैं कि सत्यार्थ प्रकाश पुस्तक को पढ़कर उनका जीवन ही बदल गया और उन्होंने उस में लिखे हुए ब्राहाचर्य के पालन के सख्त नियम पालन करने शुरू कर दिए राम प्रसाद बिस्मिल जी सिर्फ एक कंबल को तकत पर बिछा कर सोया करते थे और सुबह 4:00 बजे उठ जाया करते थे फिर व्यायाम आदि किया करते थे ईश्वर की उपासना किया करते थे और ब्राहाचर्य के पालन से ही उनमें बहुत ही अधिक बल था सामने से कोई भी दुश्मन उनको देखकर डर कर भाग जाया करते थे राम प्रसाद बिस्मिल जी के बारे में जानने के लिए उनकी आत्मकथा पढ़िए उसे डाउनलोड करने का लिंक भी आपको नीचे ही मिल जाएगा।

राम प्रसाद बिस्मिल जी एक बात कहा करते थे कि यदि विद्यार्थियों के पास में व्यायाम करने का समय कम है तो उन्हें प्रोफेसर राम मूर्ति की दंड लगानी चाहिए इस दंड से कुछ समय में ही अच्छा खासा व्यायाम हो जाता है तो मुझे उम्मीद है कि आप इन बातों पर ध्यान देंगे और आज से ही व्यायाम और ब्रह्मचर्य का पालन शुरू कर देंगे जिससे कि आप वास्तव में इस देश का कुछ भला कर पाए।

रामप्रसाद बिस्मिल की जीवनी यहाँ से डाउनलोड करें

यदि आप मेरे कार्य को सहयोग करना चाहते है तो आप मुझे दान दे सकते है। दान देने के लिए Donate Now बटन पर क्लिक कीजिये।

vyayam ka mahatva anuched in hindi. vyayam ka mahatva short essay in hindi. vyayam ka mahatva letter in hindi. vyayam ka mahatva essay in hindi for class 7.vyayam ka mahatva essay in hindi for class 4. vyayam ka mahatva essay download in marathi. vyayam ka mahatva essay in hindi for class 5.khel kud aur vyayam ka mahatva

11 thoughts on “व्यायाम का महत्व vyayam ka mahatva short essay in hindi”

  1. बहुत सुन्दर कार्य है आपका ।
    बहुत बहुत बधाई ।

    Reply
  2. जय भारत
    आप बहुत अच्छा कार्य कर रहे हो भैया अपने भी आपका इस कार्य में सहयोग दे रहा हूं दुर्भाग्य हमारे देश का कि आज brahmachari नाश हो रहा है

    Reply
  3. जय आर्यव्रत।जय सनातन धर्म।
    आपको इस महान दिव्य कार्य के लिए बहुत बहुत साधुवाद

    Reply
  4. Bhya apki jitni b bate h vo hamre liye bhut bhut achi h our mai krta n hu unka palan
    Jitna ho sake krta hu our pura kerne ki b koshish karunga g
    Our apka no mil satk h ki ya bat kese hogi h plese btye bhya

    Reply
  5. Ram Ram bhai, aap bahot acche kaam kr rahe h aapka chota bhai samj kr mao ek bahot hi important baat batanaa chatha hu pr yaha nhi bata skta plzz plzz aapse ek request h aap mujhe mail kare yaa mujhe aapse contact krna sch me amit sir bahot hi important baat h plzz plz mai sirf aur sirf aapko hi barana chahtha hu..

    Reply
    • भाई पेमेंट करते समय आपने जो मेल आइडी दी थी उसी पर पीडीएफ आयेगी, यदि नहीं आए तो आप मुझसे मेरी मेल आइडी पर संपर्क करना

      Reply

Leave a comment