Brahmacharya ब्रहाचर्य ही अमृत है मिर्त्यु को जिताने वाला

Brahmacharya ka palan kaise kare hindi


Brahmacharya ब्रहाचर्य जीवन का सार तत्व है दूध में घी का जो स्थान है तिल में तेल का जो महत्व है गन्ने में रस का जो स्थान है शरीर में वीर्य का भी वही महत्व एवं स्थान है अतः जिस प्रकार एक जोहरी अपने मूल्यवान हीरो की रक्षा और देखभाल करता है उसी प्रकार प्रत्येक व्यक्ति को हीरे और मणियों से मूल्यवान अपने वीर्य की संभाल रक्षा करनी चाहिए।

चलिए आपको एक पुरानी सच्ची घटना बताता हूं बहुत से व्यक्ति सोचते हैं कि brahmacharya ब्रहाचर्य केवल भारत से ही संबंधित है और भारत से बाहर इसका कभी कोई वजूद नहीं रहा है । आप ने यूनान के प्रसिद्ध दार्शनिक सुकरात के बारे में तो सुना ही होगा

brahmacharya palan ke niyam in hindi

Brahmacharya Benefits brahmacharya story in hindi

Brahmacharya Benefits In Hindi


Brahmacharya Benefits brahmacharya story in hindi

एक बार सुकरात के पास में एक व्यक्ति आया उसने पूछा स्त्री प्रसंग कितनी बार करना चाहिए ?

सुकरात ने उत्तर दिया जीवन में केवल एक बार और वह भी विषय भोग के लिए नहीं अपितु वंश चलाने के लिए।

उस व्यक्ति ने पुनः पूछा यदि इतना संयम ना हो सके तो क्या करना चाहिए सुकरात ने कहा यदि इतना नहीं हो सकता तो वर्ष में एक बार

उस व्यक्ति ने दोबारा पूछा यदि इससे भी तृप्ति ना हो तो?

सुकरात ने उत्तर दिया महीने में एक बार

उस व्यक्ति ने फिर पूछा यदि इससे भी संतुष्टि ना हो तो तो सुकरात ने कहा ऐसे विषय व्यक्ति को कफन अपने पास लाकर रख लेना चाहिए और कबर खुदवाकर तैयारी रखनी चाहिए फिर कितनी बार इच्छा हो उतनी बार विषय भोग कर सकता है।


Brahmacharya and success

  1. ऊर्ध्वरेता प्राणायाम वीर्य को अपने वश में करना सीखिए
  2. तुलसी और मरवे के पत्तों से पानी साफ करने का तरीका
  3. हिंदी कहानी गधे की मजार
  4. Hindu एक कैसे होगा
  5. योगी राज श्री कृष्ण की जय

योगेश्वर श्रीकृष्ण एक पत्नीव्रता थे उन्होंने 12 वर्ष तक कठोर Brahmacharya का पालन कर प्रद्युम्न नामक पुत्र को प्राप्त किया था जो रंग, रूप, बल, बुद्धि आदि गुणों में श्री कृष्ण के ही अनुरूप था ए श्री कृष्ण के उपासकों श्री कृष्ण के जीवन से शिक्षा लो और ऋतुकालगामी बनो।

brahmacharya palan ke niyam in hindi

मर्यादा पुरुषोत्तम श्री रामचंद्र जी विवाह के पश्चात 12 वर्ष तक राज महलों में रहे फिर 14 वर्ष तक सीता जी के साथ वनों में भ्रमण करते रहे दोनों ने पूर्ण ब्रहाचर्य का पालन किया।  राम की पूजा करने वालों श्री राम के गुणों को अपने जीवन में धारण करो ब्रह्मचर्य पालन करते हुए केवल ऋतुकाल में और वह भी केवल संतान प्राप्ति के लिए सहवास करो।

विवाह के पश्चात युवक समझते हैं कि हमें विषय भोग का पासपोर्ट मिल गया है अतः आरंभ में वे स्त्री सहवास में ही लिन रहते हैं इसी को सच्चा प्रेम और जीवन का उद्देश्य समझते हैं परंतु यह भयंकर भूल है ओ नवविवाहित दंपति सावधान अधिक संभोग अनुचित है इससे आपको सुख शांति और बल की प्राप्ति नहीं होगी। इसे सच्चा प्रेम समझना मूर्खता है इससे शरीर और आत्मा दोनों का पतन होता है इच्छा ना होने पर भी पत्नी के साथ सहवास करना हस्तमैथुन के समान घातक है बल्कि उससे भी भयंकर है। हस्तमैथुन के द्वारा तो मनुष्य अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी मारता है अपना ही नाश करता है लेकिन स्त्री व्यभिचार में पुरुष स्त्री को भी बर्बाद करता है।

Brahmacharya का नाश हस्थमैथुन के कुप्रभाव brahmacharya for 1 year in hindi

हस्तमैथुन से इंद्रिय की दुर्बल निर्बलता हिस्ट्री की कमी सिर में दर्द कमर हाथ पैर और जोड़ों में दर्द आंखों के आगे अंधेरा छा जाना कवच बुद्धि नाशक सपन दोष और परमेश जैसी भयंकर व्याधियों उत्पन्न हो जाती है सिर के बाल समय में ही सफेद हो जाते और झड़ने लगते हैं शरीर पीला कांति ही रोगी और दुर्बल हो जाता है ऐसे लोगों की स्त्रियां भी वयभिचारिणी बन जाती है।

शरीर के ऊपर भी इसका भयंकर प्रभाव होता है बार-बार वीर्य निकलने से शरीर को भारी धक्का पहुंचता है हृदय कमजोर हो जाता है मनुष्य नपुंसक ओर भिरू बन जाता है लोगों के सामने जाने में वह भयभीत होता और शर्माता है।
Brahmacharya

brahmacharya ki shakti in hindi

व्यायाम ब्रह्मचर्य रक्षा के लिए व्यायाम अत्यंत आवश्यक है ब्रह्मचारी को प्रतिदिन नियम पूर्वक व्यायाम करना चाहिए व्यायाम वह संजीवनी है वह श्रेष्ठ रसायन है जिसके सेवन से दुर्बल व्यक्ति भी हष्ट पुष्ट बन जाते हैं रॉकी निरोगी अल्प आयु दीर्घायु और दुराचारी सदाचारी बनता है। निरंतर व्यायाम से इंद्रियां निर्विकार और शांत हो जाती है शरीर में नवयुवक और नव चेतना तथा स्फूर्ति का संचार होने लगता है व्याधियों दूर भागती है रोग सहसा आक्रमण नहीं करते अतः प्रत्येक ब्रह्मचारी को नित्य नियमित व्यायाम करना चाहिए।

राम प्रसाद बिस्मिल जी की जीवनी हिंदी की सर्वश्रेष्ठ आत्मकथा

एक सच्ची घटना 1 दिन एक युवक अपनी धर्म पत्नी के साथ एक वैध के पास आया अपनी धर्मपत्नी की परीक्षा कराई स्त्री को जुकाम और खांसी की शिकायत थी, मन्द मन्द जवर भी रहता था नवयुवक ने बताया कि उसकी पत्नी को यह बीमारी लगभग 3 वर्ष से है वैध जी ने पूछा आपका विवाह कब हुआ था युवक ने कहा 4 वर्ष पूर्व वैद्य जी ने कहा मेरा विचार है यह बीमारी भी उतना ही पुराना है स्त्री ने यह बात स्वीकार की वैद्य जी उस युवक को एक दूसरे कमरे में लाए और युवक से कहा इसकी बीमारी का कारण तुम हो तुम अधिक स्त्री सहवास करते हो और वह भी भोजन के ठीक पश्चात तुम्हारे अत्याचार का फल वह भोग रही है यह है अधिक सहवास का परिणाम।

brahmacharya and success,brahmacharya benefits,brahmacharya power in hindi,brahmacharya ki shakti in hindi

व्यायाम में दंड बैठक दौड़ तैरना आदि अपनी रूचि के अनुसार कोई भी चुन सकते हैं परंतु ब्रह्मचर्य रक्षा और स्वास्थ्य के लिए योगा आसनों को ही सर्व श्रेष्ठ एवं उपयोगी समझा जाता है।

योगासनों के द्वारा सिर दर्द खांसी जुखाम अपच अजीत दंत रोग नेत्र रोग आदि आजीवन नहीं होते सपन दोष दूर हो जाता है मुख्य मंडल पर लावण्य और आभा आ जाती है कार्य करने की शक्ति बढ़ जाती है आलस्य और सुस्ती पास नहीं पड़ती।

brahmacharya quotes in hindi

कुछ युवक कहते हैं क्या व्यायाम करें खाने को पोस्टिक पदार्थ तो मिलते ही नहीं ऐसा सोचना एक भूल है डॉक्टर ने महोदय का कथन है मनुष्य जितना खा लेता है उसका तिहाई सा भी नहीं बचा सकता शेष पेट में रहकर रक्त को विषैला बनाकर असंख्य विकार उत्पन्न करता है। व्यायाम करने पर हमारा भोजन हमारे सुंदर स्वास्थ्य का कानून बनेगा व्यायाम के द्वारा हम अपने भोजन को ठीक प्रकार बचाकर बीमारियों को दूर धकेल सकेंगे हम आपको पहलवानों की भांति 8-8 घंटे व्यायाम करने की सलाह नहीं देते। जो प्रतिदिन सहस्त्र दंड बैठक लगाते हैं उनके लिए पोस्टिक भोजन की आवश्यकता है परंतु जी से केवल आध घंटे व्यायाम हे करना है उसके लिए बादाम मलाई दूध और रबड़ी की आवश्यकता नहीं। व्यायाम के द्वारा मनुष्य का शरीर पुष्ट होता है उसके बुद्धि तेज यश और बल बढ़ते हैं अतः प्रत्येक व्यक्ति को बयान करना चाहिए।

  1. क्या श्री कृष्ण जी की 16000 रानियां थी?
  2. प्राणायाम से कीजिये सभी समस्याओ का समाधान
  3. स्वप्नदोष आदी समस्या दूर भगाओ
  4. व्यायाम के लाभ ब्रह्मचर्य के साधन पार्ट4
  5. दांतों और मसूड़ों को मजबूत करने के उपाय

इसलिए जो ब्रह्मचारी रहना चाहते हैं Brahmacharya ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहते हैं उन्हें व्यायाम रोज करना चाहिए और अधिक जानकारी के लिए आप नीचे व्यायाम का महत्व नामक पुस्तक है उसे डाउनलोड कर सकते हैं और ब्रह्मचर्य के ऊपर एक पुस्तक है उसे भी आप डाउनलोड कर सकते हैं और पढ़ सकते हैं।

brahmacharya ki shakti in hindi
ब्रहाचर्य गौरव पुस्तक यहा से डाउनलोड करें


व्यायाम का महत्व पुस्तक यहा से डाउनलोड करे

यदि आप मेरे कार्य को सहयोग करना चाहते है तो आप मुझे दान दे सकते है। दान देने के लिए Donate Now बटन पर क्लिक कीजिये।

18 thoughts on “Brahmacharya ब्रहाचर्य ही अमृत है मिर्त्यु को जिताने वाला”

  1. Bhaiya m ek student hu aur brahmacharya ka palan karna chahta hu , subah daudte waqt aur din m b langot bandhta hu , kya ise raat m b bandhkar so sakta hu , koi diqqat to nhi hogi?
    Saath hi aap, sharir sudaul banane ka upay va diet bataye.
    Dhanyawad

    Reply
  2. Hum abhi 18 years k h hum kuch yesha dhund rahe the jisse hum aapne sapne ko pura kr ske yesha motivation jo humko IAS bna ske aaj kal k har teenager ki tarah humko v phone ki jaise aadat si lag gaii h aur hum sb jaanye h aaj kl internet p 70% content yesha yesha h jo hum sab k andar ki buraiiyo ko jagrit krta h ispe views ki v koi kami nhi hoti h views humesha millions m hota h. Aaj humko aapne sapne tk jaane ka rasta mil gya bharmacharya
    Ka palan . Thanku soo much for giving me this information ☺

    Reply
  3. भाई जी मुझे आर्य समाज से जुड़ना है
    और में अभी १८ वर्ष का हु मैने भी वीर्य का बहुत नाश किया है किन्तु अब मैने यह सब छोड़ कर ब्रम्हचर्य का पालन करना शुरू कर दिया है मुझे भी अब पहले जो वीर्य नाश किया है उसकी पूर्ति कैसे करे जरा मुझे मार्ग दर्शन दीजिए भाई जी जय श्री राम जय आर्यावर्त

    Reply
  4. Sir ladke log to control kr lenge lekin Jo inki wife hogi agar usko santusti Nahi Mili to vo samaj me naam badnam krvaygi uska kya hoga

    Reply
  5. Nice work amit bhai
    India is in action against #COVID19 to eradicate
    आप क्या सोच रहे हैं जब जितने का इरादा कर लिया है तो हमें कौन रोक सकता है। जितना हो सके शेयर कीजिए ताकि लोग जागरूक हो सके

    https://sumitalks1.blogspot.com/2020/03/janatakarfew-eradicatecovid-19.html

    Ye mera blog h aapse nivedan h aap mere blog ko bhi pramote kijiye aapka bahut bahut aabhar

    Reply
  6. Mai app ko bhoot dino se follow kr rha hu app ka content acha hai.. Achi baato ke sath buri b btani chiya to islya mai kha rha hu ki app bass hindu ke bare me hi sochte hai aap puri humanity ke bare me b soche, thank you

    Reply
  7. hello bhai ji, apki site bahut badia hai. mai apke youtube channel ko bhi follow krta hu or apke group me bhi add hu. Aap kafi logo ki help kar rahe hai yeh dekh kar accha lgta hai.

    Reply
    • आपने जो ईमेल डाली थी पेमेंट करते समय उसी पर डाउनलोड का लिंक आएगा

      Reply

Leave a comment