Tag Archives: Night Fall Treatment In Hindi

Night Fall Treatment In Hindi हस्थमैथुन स्वप्नदोष हमेशा के लिए ठीक करे

Night Fall Treatment In Hindi हस्थमैथुन स्वप्नदोष हमेशा के लिए ठीक करे, रामप्रसाद बिस्मिल जी का तरीका ब्रह्मचर्य के फायदे स्वप्नदोष की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा श्री राम प्रसाद बिस्मिल जी की जीवनी से मैं आज आपको बताऊंगा कि आप कैसे ब्रह्मचर्य का पालन कर सकते हैं और आपको जो दूसरे तीसरे दिन स्वप्नदोष हो जाता है उससे हमेशा के लिए कैसे छुटकारा पा सकते हैं।


Night Fall Treatment In Hindi हस्थमैथुन स्वप्नदोष हमेशा के लिए ठीक करे, रामप्रसाद बिस्मिल जी का तरीका ब्रह्मचर्य के फायदे

आप में से जो भाई ब्रह्मचर्य पालन करना चाहते हैं उन्हें एक बार श्री राम प्रसाद बिस्मिल जी की जीवनी जरूर पढ़नी चाहिए आज मैं इस छोटे से लेख में क्रांतिकारी गुरु राम प्रसाद बिस्मिल जी की जीवनी से वही शब्द लिख लूंगा जो उन्होंने अपनी जीवनी में लिखे हैं कि कैसे उन्होंने ब्रह्मचर्य पालन किया। Night Fall Treatment In Hindi

राम प्रसाद बिस्मिल जी लिखते हैं व्यायाम आदि करने के कारण मेरा शरीर बड़ा शिव गठित हो गया था और रंग निखर आया था मैंने जानना चाहा कि संध्या क्या वस्तु है मुंशी जी ने आर्य समाज संबंधी कुछ उपदेश दिए इसके बाद मैंने सत्यार्थ प्रकाश पड़ा इससे तख्ता ही पलट गया सत्यार्थ प्रकाश के अध्ययन में मेरे जीवन के इतिहास में एक नवीन पृष्ठ खोल दिया। मैंने उस में उल्लेखित  के कठिन नियमों का पालन करना आरंभ कर दिया।

Night Fall Treatment

पहले आप को यह जान लेना चाहिए कि सत्यार्थ प्रकाश पुस्तक है क्या दोस्तों सत्यार्थ प्रकाश पुस्तक वह क्रांतिकारी किताब है जिसको अंग्रेजों ने खूब प्रयास किया था बैन लगाने का इस पुस्तक को पढ़ने के बाद में भारत के युवा क्रांतिकारी बन जाया करते थे और उस समय जो मिशनरियां भारत के युवाओं का धर्म परिवर्तन करवा रही थी वह सब ठप हो गया था इस पुस्तक को आप सभी अवश्य से भी अवश्य पढ़ना सत्यार्थ प्रकाश प्रत्येक क्रांतिकारी की प्रेरणा स्त्रोत पुस्तक रही है।

राम प्रसाद बिस्मिल जी आगे लिखते हैं मैं कंबल को एक तकत पर बिछा कर सोता और प्रातः काल 4:00 बजे से ही है शेया त्याग कर देता। सनान संध्या आदि से निर्मित होकर व्यायाम करता किंतु मन कि वृत्तीयां ठीक ना होती। मैंने रात्रि के समय भोजन करना त्याग दिया केवल थोड़ा सा दूध ही रात को पीने लगा सहसा ही बुरी आदतों को छोड़ दिया था इस कारण कभी-कभी स्वप्नदोष हो जाता। तब किसी सज्जन के कहने से मैंने नमक खाना भी छोड़ दिया केवल उबालकर साग या दाल से एक समय भोजन करता । मिर्च खटाई तो छूता भी ना था इस प्रकार 5 वर्ष तक बराबर नमक ना खाया नमक के ना खाने से शरीर के दोष दूर हो गए और मेरा स्वास्थ्य दर्शनीय हो गया सब लोग मेरे स्वास्थ्य को आश्चर्य की दृष्टि से देखा करते थे। Night Fall Treatment In Hindi

राम प्रसाद बिस्मिल जी की जीवनी हिंदी की सर्वश्रेष्ठ आत्मकथा

दोस्तों उम्मीद है कि आप श्री राम प्रसाद बिस्मिल जी के जीवन से लाभ उठाएंगे और उनके बताए गए रास्ते पर चलेंगे तो आप ब्रह्मचर्य पालन भी कर पाएंगे और अपने विकार भी दूर कर पाएंगे दोस्तों इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर कर देना WhatsApp Facebook पर ताकि ज्यादा से ज्यादा व्यक्तियों तक पोहोच सके और वह राम प्रसाद बिस्मिल जी के जीवन से लाभ उठा पाए और दोस्तों कमेंट करके जरूर बताना यह लेख आपको कैसा लगा।